Wednesday, December 1, 2021

पथरी से लेकर पेट के लिए बेहद लाभकारी हैं आम की पत्तियां, यहां जानें लाभ और उपयोग का तरीका

नई दिल्ली: आप सभी ने आम के फायदों ( (Benefits of mango leaves) के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपको पता है कि फलों के राजा कहे जाने वाले आम की पत्तियां (Mango leaves) भी सेहत के लिए बहुत उपयोगी हैं? हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो आम की पत्तियां यह मधुमेह (Diabetes), रक्‍तचाप और खसरा (Blood pressure and dysentery) आदि बीमारियों के उपचार में मदद करती हैं.

इस खबर में हम आम की पत्तियों के फायदे और उनके उपयोग के बारे में आपको जानकारी दे रहे हैं.

आम की पत्तियों में पाए जाने वाले पोषक तत्व
आम की पत्तियों में विटामिन ए, बी, सी, तांबा, पोटेशियम और मैग्‍नीशियम (Potassium and Magnesium) जैसे खनिज पदार्थ भरपूर मात्रा में होते हैं. आम के पत्तों में एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं क्‍योंकि इन फ्लेवोनॉयड्स और फिनोल (Flavonoids and Phenol) की उच्‍च मात्रा होती है. आम के पत्तों में एंटीमिक्राबियल (Antimicrobial) गुण भी होते हैं जो विभिन्‍न बीमारियों के उपचार में मदद कर सकते हैं. 

आम की पत्तियों के फायदे

पित्त की पथरी का इलाज करने में मददगार
आम के पत्ते गुर्दे की पथरी और पित्त की पथरी का इलाज करने में मदद करते हैं. इन पत्तों के पाउडर का दैनिक सेवन (जो कि छाया में सूखाएं गए हो) करें. रात में एक गिलास पानी में पाउडर मिलकर रखें, इससे स्टोन्स को तोड़ने और उन्हें बाहर निकालने में मदद करता है. 

पेट के लिए लाभकारी
पेट को स्‍वस्‍थ्‍य रखने के आम के पत्तों को उबालें और फिर इसे किसी बर्तन में रात भर के लिए ढ़क कर रख दें. अगली सुबह इस पानी को छाने (strain) और खाली पेट इसका सेवन करें. ऐसा नियमित करने से पेट से संबंधित समस्याएं दूर होती हैं.

रक्‍तचाप को कम कर करने में मददगार
आम के पत्ते रक्‍तचाप को कम कर सकते हैं, क्‍योंकि इनमें हाइपोटेंसिव (Hypotensive) गुण होते हैं, जो रक्‍त वाहिकाओं को मजबूत करने और वैरिकाज – वेंस (Varicose Veins) की समस्‍या को भी दूर करने में मदद करता है. 

कान के दर्द से राहत
अगर आपक कान के दर्द से परेसान हैं तो आम के पत्तों का रस कान में डालें. इसके लिए उसे गुनगुना कर लें. ऐसा करने से तुरंत राहत मिलती है.

कैसे करें आम की पत्तियों का उपयोग
आम की पत्तियां चिकनी और चमकदार होती हैं. इन पत्तियों (Mango leaves) का उपयोग दो प्रकार से किया जा सकता है. पहला इन्‍हें सुखाकर पाउडर बना सकते हैं और दूसरा इन पत्तियों को उबाल कर काढ़ा बनाया जा सकता है. इनमें औषधीय गुण होने के कारण बहुत सी आयुर्वेदिक दवा बनाने में आम के पत्तों का उपयोग किया जाता है. 

डिस्क्लेमर– खबर में दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है. इसलिए इस पर अमल करने से पहले डॉक्टर या न्यूट्रिशनिस्ट की सलाह जरूर लें.

Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments